15 को भोपाल में पत्रकारों की जंगी रैली

0
165

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल के दौरान यूँ तो पत्रकारों में फूट डालो और राज करो की नीति की खूब धूम मची तो वहीं दूसरी ओर शिवराज सरकार की अपनी परम्पराओं और कार्यशैली के चलते प्रदेश में पत्रकारों की मौतों के मामले में भी अव्वल रहा, इन सब स्थितियों से जूझते हुए प्रदेश के पत्रकारों से जुड़े विभिन्न संगठनों ने आगामी 15 जनवरी को प्रदेश के पत्रकारों का भोपाल चलो के नारे के साथ आयोजित रैली में भारी संख्या में भाग लेने की अपील की है और यह उम्मीद है कि उस दिन प्रदेश भर के हजारों पत्रकार राजधानी में इस जंगी रैली में शिरकत करेंगे।

Posted by Awadhesh Bhargav on Saturday, January 13, 2018

यह रैली रविन्द्र भवन भोपाल से चलकर राजभवन व न्यू मार्केट होते हुए मुख्यमंत्री निवास पहुंचेगी जहां संगठनों से जुड़े पत्रकारों द्वारा मुख्यमंत्री को एक ज्ञाापन सौंपा जाएगा जिसमें पत्रकार सुरक्षा एक्ट लागू करने, जनसम्पर्क में पारदर्शिता लागू करने, गैर अधिमान्य पत्रकारों का स्वास्थ्य बीमा लागू करवाने, श्रद्धा निजी पाने वाले पत्रकारों की उम्र को साठ की पात्रता लागू करने और इस योजना के तहत अधिमान्यता की शर्त समाप्त करने के साथ-साथ वर्तमान में दी जा श्रद्धा निजी में इजाफा कर रुपये २५ हजार प्रतिमाह श्रद्धानिधी पत्रकारों की मांग की जाएगी। इसके साथ ही पत्रकारों को आवास के लिये सस्ती दरों पर जमीन उपलब्ध कराने, पत्रकारों की मृत्यु पर एक मुश्त उनके परिवार को 20 लाख की सहायता देने के साथ-साथ पत्रकारों से जुड़ी तमाम समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा जाएगा। पत्रकार संगठनों से जुड़े नेताओं ने प्रदेशभर में पत्रकारों से 15 जनवरी को पत्रकारों की महारैली में अधिक से अधिक संख्या में भोपाल पहुंचकर भाग लेने की अपील की गई है। इस महारैली को सफल बनाने के लिये आइसना के अध्यक्ष अवधेश भार्गव प्रदेश में पत्रकारों के साथ हो रहे भेदभाव और उपेक्षा को लेकर काफी चिंतित हैं और उनका यह प्रयास है कि सरकार विभिन्न संगठनों द्वारा दिये जा रहे ज्ञापन के मुद्दों पर गंभीरतापूर्वक विचार करे और उनकी हर वर्ग की बेहतरी के लिये जिस तरह शासन द्वारा विभिन्न योजनायें चलाई जा रही हैं उसी प्रकार पत्रकारों के लिये भी सरकार कुछ बेहतर कदम उठाये।

०००००००००

LEAVE A REPLY