दतिया ट्रॉफी-मलिक स्पोट्र्स और हरियाणा पहुॅचे सेमीफाइनल में

0
23

दतिया। (हिन्द न्यूज सर्विस)। खेल और युवा कल्याण विभाग तथा स्थानीय आयोजन समिति के द्वारा स्टेडियम मैदान पर आयोजित की जा रही अखिल भारतीय टी-20 क्रिकेट प्रतियोगिता दतिया ट्रॉफी के तीसरे दिन मंगलवार को दो मुकाबले खेल गए। पहले मुकाबले में अच्छा खेल रही मलिक स्पोट्र्स क्लब ने हरियाणा को 4 विकेट से हराकर पूल ए में पहला स्थान प्राप्त किया वहीं दूसरे मैच में दतिया एकादश का खराब प्रदर्शन जारी है। आज भी दतिया एकादश पूल में कमजोर मानी जा रही पीवाईसी मुंबई एकादश से हार गया। पीवाईसी मुंबई ने 58 रनों से दतिया एकादश को हराकर पूल में अपनी पहली जीत हासिल की। लेकिन उनकी यह जीत उनके किसी काम नहीं आई। वहीं दतिया एकादश पूल के सभी 3 मैच हार गई। इसी के साथ मंगलवार को पूल ए से सेमीफाइनल में मलिक स्पोट्र्स क्लब दिल्ली तथा हरियाणा एकादश ने प्रवेश कर लिया है। बुधवार से पूल बी के मैच खेले जाएंगे। आज के पहले मैच का मैन ऑफ द मैच का पुरूस्कार रवि को तथा दूसरे मैच का पुरूस्कार मैन ऑफ द मैच का पुरूस्कार पार्थ शिंदे को संभागीय खेल अधिकारी मकसूदा मिर्जा ने दिया गया।

मंगलवार की सुबह स्टेडियम मैदान पर अभी तक अच्छा खेल रही पूल ए की दो टीमें हरियाणा एकादश व मलिक स्पोट्र्स क्लब के मध्य खेला गया। जिसमें टॉस मलिक स्पोट्र्स क्लब ने जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। हरियाणा एकादश की ओर से एक बार फिर से सलामी बल्लेबाजी करने के लिए कपिल यादव व प्रंजल निचरेले उतरे। लेकिन टीम का स्कोर जब 4 रन था उस समय कपिल यादव आउट हो गए। अमित दलाल भी ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और मात्र 3 रन बनाकर वह भी आउट हो गए। टीम का तीसरा विकेट प्रंजल निचरेले 18 रन के रूप में गिरा। अभित मलिक तथा विजय सिंह ने टीम के स्कोर में 10-10 रनों का ही साथ दिया। 65 रनों तक टीम ने अपने 5 विकेट गिरा दिए। इसके बाद नीतू चौपड़ा 26 रन, विशाल सिंह 13, दीपक बलयान 12 तथा रोहित 10 रन को मिलकर टीम ने 20 ओवर में 9 विकेट पर मात्र 121 रन ही बना पाए। मलिक स्पोट्र्स की ओर से विशाल ने 3, रवि और इमरान ने 2-2 तथा मनीष व समीर ने 1-1 विकेट प्राप्त किया।

हरियाणा की ओर से मिले 121 रनों का जबाव देने के लिए मलिक स्पोट्र्स की ओर से देवेचल सिंह और समीर खान की जोडी उतरी। टीम का स्कोर जब 9 रन पर भी जब ही देवेचल 5 रन बनाकर आउट हो गए। तीसरे विकेट के लिए उतरे असरफ भी कुछ खास नहीं कर पाए और वह 9 रन बनाकर आउट हो गए। टीम का तीसरा विकेट समीर खान 27 रन के रूप में गिरा। रवि ने 6 रन बनाए। टीम का पांचवा विकेट भावेस भार्गव के रूप में गिरा उन्हेांने 34 रन बनाए। मनीष चौधरी ने 20 रन बनाए। टीम ने विजयी लक्ष्य 19.3 गेद पर 6 विकेट खोकर प्राप्त किया। हरियाणा की ओर से अमित दलाल ने 3 विकेट, शुभम, शिवम व रोहित ने 1-1 विकेट लिया।
दूसरा मैच दतिया एकादश व पीवाईसी मुबई एकादश के बीच खेला गया। जिसका टॉस पीवाईसी मुंबई ने जीता और पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। पीवाईसी की ओर से सलामी बल्लेबाजी करने के लिए कप्तान पार्थ शिंदे और अंकित उतरे। दोनों ने आते की कई आकर्षक शॉट लाएगा। अकित 17 रन के निजी स्कोर पर आउट हुए। इसके बाद आतिश ने भी आते ही आतिशी पारी खेलना शुरू कर दिया। टीम का स्कोर जब 93 रन था उस समय आतिश आउट हुए। वहीं सलामी बल्लेबाजी करने उतरे पार्थ शिंदे ने अपना अर्धशतक पूरा किया वह 69 रन बनाकर आउट हो गए। राहुल 18 और ओमकार 20 को छोडकर टीम का निचलाक्रम कुछ खास नहीं कर पाया। लेकिन टीम ने दतिया एकादश के खिलाफ जरूर 20 ओवर में 8 विकेट पर 184 का विशाल स्कोर रख दिया। दतिया एकादश की ओर से अकित यादव ने 3 तथा राबिन, अभिषेक, रामू तथा शनि ने 1-1 विकेट लिया।

पीवाईसी मुंबई की ओर से दिया गया 184 रनों के स्कोर का पीछा करने के लिए दतिया एकादश की ओर से रामू शर्मा व खूमे बघेल सलामी बल्लेबाजी करने के लिए उतरे। लेकिन खेमू पारी की पहली ही गेंद पर आउट हो गए। रामू का साथ देने के लिए अभिषेक बबेले आए। रामू और अभिषेक ने कई शानदार शॉट लाएगा। लेकिन रामू शर्मा जब 26 रन के निजी स्केार पर थे जब मनोज ने उनका शानदार कैंच पकड़कर उनकी पारी को समाप्त किया। इसके बाद रोबिन 26, अभिषेक बबेले 33 व प्रिंस 15 रन को छोडकर टीम के अन्य खिलाड़ी दहाई तक नहीं पहुॅच पाए। टीम 18.5 ओवर में 126 रन ही बनाकर आउट हो गई। पीवाईसी मुंबई की ओर से आन्नद ने 2 तथा मनोज, उमर, आतिश, श्रीकांत तथा पार्थ ने 1-1 विकेट लिया।

००००००००

LEAVE A REPLY