कांग्रेस ने लोगों को बांटा है, इसीलिए हार रही है-योगी आदित्यनाथ

0
11

बेंगलुरु।(हिन्द न्यूज सर्विस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने कर्नाटक दौरे में कांग्रेस पर हमला बोला है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा विकास के एजेंडे पर टिकी हुई है। कांग्रेस ने लोगों को बांटा है, इसीलिए हर राज्य में कांग्रेस हार रही है। हिमाचल प्रदेश और गुजरात में कांग्रेस हार गई, जबकि गुजरात में विकास के चलते भाजपा छठवीं बार सत्ता में आ गई।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा विकास के एजेंडे पर टिकी हुई है। कांग्रेस ने लोगों को बांटा है, इसीलिए हर राज्य में कांग्रेस हार रही है। हिमाचल प्रदेश और गुजरात में कांग्रेस हार गई, जबकि गुजरात में विकास के चलते भाजपा छठवीं बार सत्ता में आ गई।

योगी ने कहा, विकास की राह में कर्नाटक की रफ्तार धीमी है। एक समय था, जब बेंगलुरु आईटी हब हुआ करता था, लेकिन अब ये शहर कानून और व्यवस्था से जुड़ी समस्याओं का सामना कर रहा है। कांग्रेस हमेशा से लोगों को जाति और धर्म के आधार पर बांटने की कोशिश करती रही है। तीन तलाक बिल पर भी कांग्रेस मत स्पष्ट नहीं है, इसीलिए कांग्रेस तीन तलाक बिल को पास नहीं होने दे रही है।

योगी आदित्यनाथ में बेंगलुरु में आयोजित रैली में सिद्धारमैया के हिंदू होने पर सवाल उठाया। योगी ने कहा कि अगर सिद्धारमैया हिंदू हैं तो गोमांस खाने वालों की वकालत क्यों करते हैं? योगी ने कहा- सीएम सिद्धारमैया भी उसी तर्ज पर काम करने लगे हैं, जैसा कि गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने किया था, उन्होंने कई मंदिरों पर माथा टेका था और हिंदुत्व की बात करने लगे थे।

आदित्यनाथ ने कहा- मैंने ऐसे समाचार देखे हैं जिनमें मुख्यमंत्री सिद्धारमैया खुद को हिंदू बता रहे थे। आपकी (भाजपा समर्थकों) की ताकत को देखकर वह भी उसी राह पर चल पड़े हैं, जिस पर गुजरात चुनाव से पहले राहुल गांधी चले।

योगी ने बताया कि हिंदुत्व कोई धर्म नहीं है, बल्कि जीने की एक राह है। रैली को संबोधित करते हुए योगी ने भगवान राम, माता सीता को याद करने को कहा।

योगी ने कहा कि मत भूलिए हनुमान का जन्म कर्नाटक में हुआ था। कर्नाटक ऊर्जा का प्रतीक है, यहीं के जंगलों में भगवान राम को बजरंगबली ने सही राह दिखाई थी, जब सीता मईया का अपहरण हो गया था, कर्नाटक में जो भगवान मंजूनाथ के नाम से जाते हैं, वो ही गोरक्षनाथ जी हैं, ये पावन धरती है, जहां के कण-कण में आस्था और विश्वास है लेकिन सियासी ताकतों ने यहा जाति-धर्म के नाम पर केवल नफरत के बीज बोए हैं, हमें राज्य का पुराना गौरव वापस लाना है। भगवान हनुमान और भगवान राम ने मिलकर माता सीता को मुक्त कराया था और अब उत्तर और दक्षिण भारत की जनता को भाजपा की जीत के लिए साथ आना होगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि अगर भाजपा गुजरात और हिमाचल में जीत सकती है, तो कर्नाटक में क्यों नहीं। योगी ने बताया कि उत्तर प्रदेश कई समस्याएं थीं, लेकिन पिछले 10 महीनों में सभी समस्याओं को हल निकाल लिया गया, पीएम मोदी के कारण ही राज्य का विकास संभव हुआ।

आपको बता दें कि इससे पहले कर्नाटक पहुंचने पर योगी आदित्यनाथ ने निर्मलानंद स्वामी से मुलाकात की। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा,जब भी मैं कर्नाटक आता हूं, मैं इस मठ का दौरा जरुर करता हूं।

आपको बता दें कि कर्नाटक में अप्रैल-मई के महीने में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। भाजपा राज्य के सभी 224 विधानसभा सीटों पर परिवर्तन रैली कर रहे हैं, ताकि भाजपा दोबारा सत्ता में आ सके। 2 नवंबर को बेंगलुरु में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इस रैली को हरी झंडी देकर रवाना किया था और इस महीने की 29 तारीख को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु में परिवर्तन रैली का समापन भाषण देंगे।

००००००००००००

 

LEAVE A REPLY