मुंबई -जिग्नेश मेवानी-उमर खालिद का कार्यक्रम रद्द

0
30

मुंबई। (हिन्द न्यूज सर्विस)। पुणे हिंसा को लेकर सतर्क महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में प्रस्तावित दलित नेता जिग्नेश मेवानी और जेएनयू के छात्र उमर खालिद के कार्यक्रम को रद कर दिया है। इस सभा का आयोजन छात्र भारती सभा कर रही थी लेकिन भीमा कोरेगांव हिंसा को देखते हुए पुलिस ने इसे मंजूरी देने से इनकार कर दिया है। पुलिस ने जहां कार्यक्रम होना था उस ऑडिटोरियम को सील कर दिया है। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सैकड़ों छात्र सभा स्थल पर जमा होने लगे और पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध करने लगे। पुलिस ने विरोध करने वाले छात्रों को हिरासत में ले लिया है।

कार्यक्रम के संयोजक छात्र भारती संगठन के उपाध्यक्ष सागर भालेराव ने बताया कि आज विलेपार्ले के भाईदास हॉल में अखिल भारतीय छात्र समिट होने जा रही थी, लेकिन पुलिस ने पूरे इलाके को घेरकर यहां एंट्री पर रोक लगा दी है। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रदेशभर से छात्र यहां इक_ा हो रहे हैं। इस कार्यक्रम में जिग्नेश मेवाणी और उमर खालिद को भी आमंत्रित किया गया था।

छात्रों का आरोप है कि उनका कार्यक्रम शांतिपूर्वक ढंग से होने जा रहा था, पुलिस बीच में आकर माहौल को खराब करने की कोशिश की जा रही है। पुलिस की इस कार्रवाई पर छात्र वहां धरना देकर बैठ गए।

वहीं, पुलिस ने आयोजन स्थल के आसपास धारा 149 लागू कर दी है. इस धारा के लागू होने से 5 से अधिक लोग एक जगह इक_ा नहीं हो सकेंगे। आयोजकों ने पुलिस के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है। प्रदर्शन में छात्र नेता भी मौजूद थे।

बता दें कि पुलिस ने आरोप लगाया है कि 31 दिसंबर को पुणे के भीमा-कोरेगांव में जिग्नेश मेवाणी और उमर खालिद के भीड़ को भड़काने के बाद पहली जनवरी को हिंसा भड़की थी। इस हिंसा में एक आदमी की मौत हो गई और बड़े पैमाने पर सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया। पुलिस ने हिंसा के लिए इन दोनों नेताओं के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। इस हिंसा के बाद कल तीन जनवरी को दलित संगठनों ने महाराष्ट्र बंद का आयोजन किया था। इस दौरान भी कई जगहों पर हिंसा और तोडफ़ोड़ हुई थी।

००००००००००

LEAVE A REPLY