स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में भोपाल शहर को नंबर 1 बनाने हेतु सभी को जुटना होगा

0
4

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। महापौर आलोक शर्मा ने कहा है कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में भोपाल शहर को देश का सबसे स्वच्छ शहर बनाना है। इसके लिये निगम के अमले के साथ सभी को अपनी जिम्मेदारी का निर्वाहन गंभीरतापूर्वक करना होगा। महापौर शर्मा ने गुरूवार को निगम मुख्यालय में निगम आयुक्त प्रियंका दास की उपस्थिति में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक में निर्देशित किया है कि शहर की सफाई व्यवस्था को उच्चस्तरीय बनाने के दृष्टिगत नियुक्त किये गये वरिष्ठ अधिकारी अपने क्षेत्रों में प्रात:कालीन भ्रमण कर सफाई कार्य का पर्यवेक्षण करें। महापौर शर्मा ने आदमपुर छावनी में वेस्ट टू ऐनर्जी प्लांट एवं टेऊनिंग ग्राउंड के निर्माण कार्य की जानकारी ली तथा कार्यो को निर्धारित समय में पूर्ण करने के निर्देश दिये।

महापौर शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2017 में जिस प्रकार से लगन एवं मेहनत के साथ शहर की सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाया गया था उससे भी ज्यादा मेहनत करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि पहलेे 500 शहरों में प्रतिस्पर्धा थी किन्तु स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 की रेकिंग में हमें 4000 शहरों से प्रतिस्पर्धा कर मापदंडों के अनुरूप अपने शहर भोपाल को देश का सबसे स्वच्छ शहर बनाना है। बैठक में महापौर श्री शर्मा ने नोडल अधिकारी के रूप में नियुक्त निगम के उपायुक्त एवं अन्य अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर सफाई व्यवस्था के कार्य का नियमित पर्यवेक्षण एवं संसाधनों की मानीटरिंग करने के निर्देश दिये। महापौर शर्मा ने कहा कि स्वच्छता अभियान में शहर के सभी वर्गो का सहयोग लिया जायेगा। इसके लिये व्यापक पैमाने पर बाजार क्षेत्रों, शैक्षणिक संस्थाओं के साथ कार्यक्रम के अनुसार जन जागरूकता अभियान चलाया जायेगा। उन्होंने कहा कि चाय पर चर्चा के माध्यम से नागरिकों में स्वच्छता जागरूकता के कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। उन्होंने निगम के स्वच्छता सेवकों के कार्यो की सराहना करते हुये उनकी हौसला अफजाई की। श्री शर्मा ने स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारियों को स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 हेतु निर्धारित मानकों के अनुरूप शहर की सफाई व्यवस्था के साथ कचरे के निष्पादन के कार्य व्यवस्थित रूप से संपादित करने के निर्देश दिये साथ ही कार्य में लापरवाही बरतने वालों के विरूद्ध कार्यवाही किये जाने की हिदायत भी दी।

बैठक में अपर आयुक्त एम.पी.सिंह, उपायुक्त हर्षित तिवारी, हरीश गुप्ता, बी.डी.भुमरकर, प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी अशोक माहेश्वरी, राजीव सक्सेना, राकेश शर्मा सहित निगम के सभी प्रभारी सहायक स्वास्थ्य अधिकारी व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

००००००००००

LEAVE A REPLY