मेरे शब्द का अर्थ नीच है तो मैं माफी मांगता हूं-मणिशंकर अय्यर

0
8

नई दिल्ली। (हिन्द न्यूज सर्विस)। कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के अमर्यादित बयान पर बवाल मच गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी का रुख साफ करते हुए कहा है कि वह अय्यर के बयान से सहमत नहीं है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की तरफ से हिदायत के कुछ मिनट बाद ही मणिशंकर अय्यर मीडिया के सामने आए और अपने कहे पर माफी मांग ली।

मणिशंकर अय्यर ने अपने बयान पर सफाई दी है। अय्यर ने कहा कि जब मैंने नीच कहा तो मेरा मतलब निचले स्तर से था। हिंदी मेरी मातृभाषा नहीं है, इसलिए जब मैं हिंदी बोलता हूं तो अंग्रेजी में सोचता हूं। ऐसे में इसका कोई और मतलब निकलता है तो मैं माफी मांगता हूं। उन्होंने कहा कि पीएम ने क्यों बाबा साहब अबेंडकर सेंटर के उद्घाटन पर कांग्रेस और राहुल गांधी पर निशाना साधा? हर रोज पीएम मोदी हमारे नेताओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हैं। मैं एक फ्रीलांस कांग्रेसी हूं। मैं पार्टी में किसी पोस्ट पर नहीं हूं। इसलिए पीएम को उनकी ही भाषा में जवाब दे सकता हूं।

उधर, राहुल ने ट्वीट करते हुए कहा, पीएम मोदी पर मणिशंकर द्वारा दिए गए बयान से हम सहमत नहीं है। उम्मीद करते हैं कि अय्यर माफी मांगेंगे। राहुल ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम मोदी और उनकी पार्टी ने कई बार उनका अपमान किया है।

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को डॉ अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर का उद्घाटन करते हुए नेहरू गांधी परिवार पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के जाने के बरसों बाद तक राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मिटाने के प्रयास किए जाते रहे लेकिन जिस एक परिवार के लिए ये सब किया गया, उस परिवार से कहीं ज्यादा लोग आज बाबा साहेब से प्रभावित हैं। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने भाषा की मर्यादा को तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि अंबेडकर की याद में बनी इमारत के उद्घाटन के मौके पर ऐसी बात नहीं करनी चाहिए।

००००००००००

LEAVE A REPLY