मुख्यमंत्री के सामने पुलिस ने की किसानों की धुनाई

0
15

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। लगता है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में भी अब उसी तरह की घटनायें घटित होने लगी हैं जिस प्रकार पूर्व कांग्रेसी मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के शासनकाल में प्रदेश की नौकरशाही और जिम्मेदार अधिकारियों के साथ-साथ पुलिस और अन्य मैदानी अमला दिग्विजय सिंह की नीतियों से परेशान होकर असहयोग की स्थिति बन गई थी। ठीक उसी तरह की घटनायें अब शिवराज सरकार के कार्यकाल में भी घटित होने लगी हैं यह सर्वविदित है कि प्रदेश के किसान में राज्य की नौकरशाही और भ्रष्टाचार की वजह से असंतोष पनप रहा है और ऐसे में ही सरकार द्वारा भावांतर योजना को लागू करने की वजह से किसानों में असंतोष की स्थिति बन रही है। जिसके चलते किसानों का पहले आक्रोश मंदसौर में फूटा फिर टीकमगढ़ में पुलिस द्वारा अद्र्धनग्न किये जाने की घटना और अब स्थिति तो यह बन गई है कि किसान मुख्यमंत्री से अपनी गुहार लगाने जाते हैं तो पुलिस द्वारा उन किसानों पर लाठी बरसा करने में कोई गुरेज नहीं किया जाता है। कुल मिलाकर राज्य में इस समय हर तरफ किसानों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है और शिवपुरी जैसी घटनायें किसानों के साथ यदि घटती रहीं तो किसानों के साथ क्या स्थिति बनेगी इसका तो अंदाजा ही लगाया जा सकता है।

०००००००००००००

LEAVE A REPLY