मणिशंकर का बयान गुजरात का अपमान है -प्रधानमंत्री मोदी

0
5

सूरत। (हिन्द न्यूज सर्विस)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर के बयान पर जवाब देते हुए कहा कि यह पूरे गुजरात का अपमान है। सूरत में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस नेता ने मुझ पर जो विवादास्पद बयान दिया है वह अशोभनीय है उस अपमान बदला गुजरात की जनता भाजपा को वोट देकर लेगी।

सूरत में रैली के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गुजरात के बेटे के लिए उन्होंने नीच शब्द का इस्तेमाल किया। उनमें मुगल संस्कार है, ऊंच-नीच देश के संस्कार में नहीं है। उन्होंने कहा, मणिशंकर का बयान गुजरात का अपमान है और वोट देकर गुजरात की जनता बदला लेगी। कांग्रेस नेता ने मुझे नीच कहकर बुलाया। मैं भले नीच जाति का हूं लेकिन मैंने काम ऊंचे किए है। उन्होंने गुजरात की जनता से कहा कि 9 और 14 दिसंबर को गुजरात की जनता नीच कहने वालों को जवाब दे। कमल को वोट देकर ऊंचे काम करिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, श्रीमान मणिशंकर अय्यर ने गुरुवार को कहा कि मोदी नीच जाति का है और नीच है। क्या यह गुजरात का अपमान नहीं है? उन्होंने कहा, यह मुगल मानसिकता है जहां अगर ऐसा कोई व्यक्ति किसी गांव में अच्छे कपड़े पहनता है तो उन्हें दिक्कत होती है। मोदी के इस बयान पर उन पर हमला बोलते हुए अय्यर ने कहा, वह (मोदी) नीच किस्म के आदमी हैं जिनकी कोई सभ्यता नहीं है। मोदी ने सभा में कहा, आपने मुझे 14 साल तक मुख्यमंत्री के रूप में और फिर प्रधानमंत्री के रूप में देखा है। क्या मैंने ऐसा कोई काम किया है जिसने आपको नीचा दिखाया हो? क्या मैंने कोई नीच काम किया है। प्रधानमंत्री ने भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों से अय्यर के बयान पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देने का आग्रह किया। उन्होंने कहा, उनके बयान पर कृपया ट्विटर पर भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दें।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, वो हमें चाहे जो बुलायें (गधा, नीच, गंदी नाली के किड़े) गुजरात के लोग इस तरह के दुव्र्यवहारिक भाषा का उचित जवाब देंगे। मोदी ने कहा कि वे मुझे नीच कह सकते हैं। हां, मैं समाज के गरीब वर्ग से हूं और गरीब, दलित, आदिवासी और अन्य पिछड़ा वर्ग के समुदायों के लिए काम करने के लिए अपने जीवन के हर पल बिताऊंगा। वे अपनी भाषा जारी रख सकते हैं, हम अपना काम करेंगे। हम जवाब नहीं देंगे। हमारे पास यह मानसिकता नहीं है और हम उन्हें अपनी तरफ से बधाई देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि हम 9 दिसंबर और 14 दिसंबर को अपने मतदान से जवाब देंगे। पीएम ने बिना नाम लिये कहा कि कांग्रेस के नेता ऐसी भाषा में बोल रहे हैं जो लोकतंत्र में स्वीकार्य नहीं है। एक कांग्रेस नेता, जिन्होंने सबसे अच्छे संस्थानों में अध्ययन किया है, एक राजनयिक के रूप में कार्य किया, कैबिनेट मंत्री थे, उन्होंने कहा कि मोदी नीच हैं. यह अपमानजनक है।

०००००००००००००

LEAVE A REPLY