अमेरिका के मैनहटन में आतंकी हमला

0
59

मैनहटन। (हिन्द न्यूज सर्विस)। अमरीका में न्यूयॉर्क के लोअर मैनहटन एक आतंकी ने सड़क पर चल रहे लोगों को तेज रफ्तार ट्रक से रौंद दिया है जिसमें अब तक 8 लोगों के मारे जाने की खबर है वहीं 11 अन्य घायल हैं। मरने वालों में 5 लोग अर्जेंटीना के हैं। पुलिस के मुताबिक लोअर मैनहटन की इस घटना में आठ लोग मारे गए और कम से कम 12 अन्य घायल हो गए। न्यूयॉर्क के गवर्नर ने इसको आतंकी हमला करार देते हुए लोन वुल्फ अटैक (अकेला आतंकी) कहा है। ट्रक रुकने के बाद हमलावर दोनों हाथों में गन लेकर उतरा और चिल्लाने लगा।

पुलिस की गोलीबारी में वह घायल हो गया। उसके पेट में गोली लगी है। उसका इलाज चल रहा है और बचने की संभावना है। बाद में पता चला कि उसके पास नकली गन थी। हमलावर की पहचान उजबेकिस्तान के 29 वर्षीय नागरिक सैफुलो सैपोव के रूप में हुई। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक जब वह ट्रक से कूदा तो अल्लाह हो अकबर चिल्ला रहा था।

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यूयॉर्क आतंकी हमले की आलोचना करते हुए ट्वीट किया। मोदी ने कहा कि उनकी संवेदनाएं हमले में मारे गए लोगों के परिजनों के साथ हैं। उन्होंने घायलों के जल्दी स्वस्थ्य होने की कामना की। इस हमले में किसी भारतीय के हताहत होने की खबर नहीं है।

पुलिस के सूत्रों ने बताया कि सैपोव 2010 में अमेरिका आया था और उसके पास फ्लोरिडा का ड्राइवर लाइसेंस था। इस बात की संभावना व्यक्त की जा रही है कि वह न्यू जर्सी में रहता था। दरअसल यह घटना वेस्ट स्ट्रीट के बाइक ट्रैक पर घटित हुई। यह इलाका वलर््ड ट्रेड सेंटर से कुछ ही दूरी पर है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इसने एक पीले रंग की स्कूल बस को भी टक्कर मारी। पुलिस के मुताबिक बस में सवार दो बच्चे घायल हुए।

पत्रकारों से बात करते हुए मेयर बिल डे ब्लेसियो ने इसको कायराना आतंकी कार्रवाई करार दिया। उन्होंने कहा था कि निर्दोषों को निशाना बनाने के लिए यह एक कायराना आतंकी हरकत थी। न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रयू क्यूमो ने इसको लोन वुल्फ अटैक बताया। उनके मुताबिक इस तरह के प्रमाण अभी तक नहीं मिले हैं जिससे ये लगता हो कि यह घटना एक बड़ी साजिश का हिस्सा है। अभी तक किसी आतंकी संगठन ने भी हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इस घटना में हताहत हुए लोगों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए कहा कि न्यूयॉर्क सिटी आतंकी घटना के बाद दुख की इस घड़ी में पीडि़तों के प्रति मेरी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं हैं। ईश्वर और आपका देश आपके साथ है। उन्होंने कहा कि बीमार किस्म के शख्स ने हमला किया। डोनाल्ड ट्रंप ने हमले की निंदा करते हुए कहा हमें आईएसआईएस को वापस आने नहीं देना चाहिए। ट्रंप ने ट्वीट किया, एनवाईसी (न्यूयॉर्क सिटी) में बहुत बीमार और विक्षिप्त लग रहे एक व्यक्ति ने एक और हमला किया। कानून प्रवर्तन एजेंसियां इस पर गहरी नजर रख रही हैं। अमेरिका में नहीं!

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, आईएसआईएस को पश्चिम एशिया और अन्यत्र स्थानों पर शिकस्त देने के बाद हमें उन्हें हमारे देश में वापस आने या घुसने की इजाजत नहीं देनी चाहिए। बस बहुत हुआ!

पुलिस के अनुसार, स्थानीय समयानुसार दोपहर तीन बज कर करीब पांच मिनट पर संदिग्ध किराए पर लिया हुआ एक ट्रक ले कर वेस्ट स्ट्रीट / ह्यूस्टन स्ट्रीट पर पहुंचा और बाइक सवारों तथा पैदल जा रहे लोगों को कुचलता हुआ दक्षिण की ओर चला गया। इस दौरान ट्रक वेस्ट स्ट्रीट तथा चैंबर्स स्ट्रीट पर स्कूल की एक बस से टकरा गया। इसके बाद, ट्रक चला रहा व्यक्ति हाथ में दो हथियार लिए हुए उतरा। उस इलाके में तैनात अधिकारी ने उसे गोली मारी जो उसके पेट में लगी।

पुलिस ने बताया, ट्रक चालक को हिरासत में ले लिया गया है। मौके से दो बंदूकें बरामद हुई हैं। एफबीआई से जानकारी लेने के बाद सीनेट में माइनॉरिटी के नेता चक शूमर ने कहा, जांच जारी है और इस घटना से हमें सबक लेना चाहिए कि तथा इसकी पुनरावृत्ति रोकने के लिए हम जो कर सकते हैं वह करना चाहिए। आतंकवाद का कहर अभी जारी है और हमें हमेशा ही सतर्क रहना चाहिए। सदन में माइनॉरिटी की नेता नैन्सी पेलोसी ने कहा, आज शाम हुई आतंक की इस निंदनीय घटना से सभी अमेरिकी भयभीत और स्तब्ध हैं।

००००००००००००००

LEAVE A REPLY