स्वस्थ शरीर तब ही होगा स्वस्थ मन-जितेन्द्र ठाकुर

0
33

दतिया। (हिन्द न्यूज सर्विस)। युवाओं का ज्यादा से ज्यादा हमारे परम्परागत खेलों की ओर रूझान होना चाहिए। हमारे परम्परागत खेल हमें ऊर्जा के साथ-साथ स्वस्थ शरीर भी प्रदान करते है। जब हमारा शरीर स्वस्थ होगा जब ही हमारा मन स्वस्थ होगा। जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए तंदुरूस्त शरीर और स्वस्थ मन होना बहुत जरूरी है। आजकल के युवा अपना अधिकतर समय मोबाइल या टीव्ही देखने में देते है जो बहुत ही गलत है। इससे उनका शरीर कमजोर होता जा रहा है वहीं मोटापा और शरीर भी आलसी बन रहा जो सही नहीं है। युवाओं को पढ़ाई के साथ-साथ अधिक से अधिक मैदानी खेलों में व्यतीत करना चाहिए। यह बात मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश सचिव जितेन्द्र सिंह ठाकुर ने कही। ठाकुर बीती शाम ग्राम सहदौर में माता मंदिर पर आयोजित अखिल भारतीय दंगल प्रतियोतियों में बतौर अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

ठाकुर ने कहा कि दतिया विश्व प्रसिद्ध पहलवान गामा की कर्मभूमि रहा है। एक दौर था जब हमारे यहां पहलवानों की भरमार हुआ करती थी। कई शानदार पहलवान अपनी पहलवानी की दम पर हमारे जिले का नाम रोशन किया करते थे। अभी कुछ युवा जरूर हमारे जिले का नाम देश में कुश्ती की दम पर जिले का नाम रोशन कर रहे है। ठाकुर ने कहा कि मैं तो इस मौके पर युवाओ से अपील करूगां कि मोबाइल पर समय कम दिजीए और पहलवानी में ज्यादा। इससे आपको दो फायदे होंगे एक तो शरीर स्वस्थ रहेगा और दुसरी आपको पहलवानी के कारण शौहरत भी मिलेगी। यहां पर जो पहलवान आए है मैं उन सभी को बहुत बहुत शुभकामनाएं देता हूॅ। हार-जीत अलग बात है। लेकिन सबसे बड़ी बात है मैदान में उतरना। मैदान में उतरने की हिम्मत होनी चाहिए। जिसके हौसले बुलंद होने के साथ आत्मविश्वास होगा वहीं जीतेंगा। लेकिन हारने वाला भी कमजोर नहीं होता है। हॉ आज भले ही वह हार गया। लेकिन जो हारते है वहीं तो जीतने और ज्यादा मेहनत करते है। हमें प्रयास करते रहना चाहिए। जो लगातार प्रयास करेगा। वही विजयी होगा।

इस अवसर पर दंगल समिति के आयोजक संजू राजा, संजू पाठक, सतीश गुप्ता, कत्थू राजा, महेन्द्र यादव, अनिल गुप्ता, हरकिशोर शर्मा, मुकेश शर्मा, संजय रावत, ज्ञान सिंह यादव, पंकज शर्मा, रतीराम पाल सहित बडी संख्या में पहलवान व ग्रामीणजन उपस्थित थे।

०००००००००००

LEAVE A REPLY