स्मार्ट सिटी रोड के निर्माण में बाधक अतिक्रमण को निगम अमले ने हंगामे के बीच हटाया

0
139

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। राजधानी भोपाल के पॉलिटेक्निक चौराहे से डिपो चौराहे तक बनाई जा रही पहले स्मार्ट सिटी सड़क निर्माण में बाधक अतिक्रमण को नगर निगम के अतिक्रमण विरोधी अमले ने आज सुबह हटाया। अतिक्रमण हटाते समय निगम अमले को स्थानीय लोगों का विरोध सहना पड़ा, लेकिन पुलिस बल की मौजूदगी में अमले ने अतिक्रमण को आसानी से हटाया।

नगर निगम के अतिक्रमण अमला आज सुबह अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करने बाणगंगा पहुंचा। जहां क्षेत्रीय पार्षद शबिस्ता जकी और बाणगंगा पर बसे हजारों लोग सड़को पर उतर आए। इस दौरान नगर निगम के अमले के साथ भारी पुलिस बल मौजूद था। शासन प्रशासन के आला अधिकारियों ने कार्रवाई में बाधा न डालने पार्षद और उनके समर्थकों से अपील की।

इस दौरान कांग्रेस की पार्षद शबिस्ता जकी, उनके पति और राजीव गांधी कॉलेज के मालिक आसिफ जकी ने रहवासियों और समर्थकों के साथ नारेबाजी कर अधिकारियों से बदसलूकी कर डाली। जिसे देख अधिकारियों ने शबिस्ता और आसिफ को समझाइश देने का प्रयास किया। दोनों नहीं माने तब हालात को बिगड़ता देख पार्षद शबिस्ता जकी सहित उनके समर्थकों को पुलिस द्वारा हिरासत में ले लिया गया।

कार्रवाई के दौरान इलाके में खासा पुलिस बल तैनात किया गया। इसके साथ ही रहवासियों को तीन दिन का समय सामान हटाने के लिए दिया गया है। आज की कार्यवाही में हिन्दी भवन, गांधी भवन, अरेबियन गार्डन सहित कई भवनों में तोडफ़ोड़ की गई।

गौरतलब है कि पॉलिटेक्निक से भारत माता (डिपो चौराहे) तक राजधानी का पहला स्मार्ट सिटी रोड बनाया जा रहा है। ढाई किलोमीटर लंबे इस रोड को बनाने का काम भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने एक कंपनी को दिया है। स्मार्ट सिटी के तहत बनाए जा रहे इस रोड के लिए भारत स्काउट एवं गाइड के सामने की पहाडिय़ों, चट्टानों को काटा जा रहा है।

अनुबंध के अनुसार कंपनी को एक साल में यह रोड बनाकर देना है। इस पर 28 करोड़ रुपए रुपए खर्च होंगे। हरियाली युक्त इस फोर लेन रोड के दोनों ओर पैदल यात्रियों के लिए पाथ-वे और साइकिल ट्रैक बनाया जाएगा। इसके अलावा भूमिगत विद्युत एवं अन्य सर्विस लाइन, आधुनिक स्ट्रीट लाइट, वाईफाई जोन, पर्यावरण सेंसर युक्त स्मार्ट पोल, स्मार्ट सीसीटीवी कैमरे, आधुनिक साइकिल स्टैंड, इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन जैसी सुविधाएं रहेंगी।

००००००००००

LEAVE A REPLY