व्यवसायिक काम्पलेक्स और ऊंची इमारतों का अग्निशमन अमले का निरीक्षण निरंतर जारी

0
69

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। महापौर आलोक शर्मा के निर्देश पर निगम आयुक्त प्रियंका दास द्वारा शहर के व्यवसायिक काम्पलेक्स व ऊंची इमारतों में अग्नि दुर्घटना से बचाव हेतु गठित अग्निशमन अधिकारियों के दल ने शनिवार को जोन क्र. 02, 08, 09, 13, 16 एवं 19 क्षेत्र के अंतर्गत स्थित व्यवसायिक काम्पलेक्स, हॉस्पिटल एवं अन्य संस्थानों में निरीक्षण कर अग्निशमन व्यवस्थाओं का जायजा लिया। निगम के फॉयर ऑफीसर रामेश्वर नील ने जोन क्र. 02 के अंतर्गत मोतिया तालाब के सामने स्थित हॉस्पिटलों का निरीक्षण किया जिसमें मुख्य रूप से एल.बी.एस. हॉस्पिटल, यशोदा हॉस्पिटल, यूनिक हॉस्पिटल शामिल है। निगम के दल ने नर्मदा स्वीट हाउस, वंडर ब्रेड, टी.एम. कान्वेंट स्कूल, लोटस शोरूम, रिलायंस फ्रेस स्टोर, राजपाल टोयटा एवं सांघी बजाज इत्यादि शोरूम सहित 42 संस्थानों का निरीक्षण किया जिसमें अग्निशमन की व्यवस्था नहीं पाए जाने पर इन संस्थानों को नोटिस देकर 07 दिवस में अग्निशमन व्यवस्था कर नगर निगम से एन.ओ.सी. प्राप्त करने हेतु निर्देशित किया।

नगर निगम के प्रभारी सहायक ऑफीसर इफ्तेखार खान ने जोन क्र. 19 स्थित दृष्टि प्लाजा, विशाल मेगा मार्ट, सी.आई. स्क्वेयर, सी.आई. हाईटस, अनुमम हॉस्पिटल, मंगलम इलेक्ट्रॉनिक्स एवं बी.जी.एस. होण्डा इत्यादि व्यवसायिक संस्थानों का निरीक्षण कर अग्निशमन की व्यवस्था नहीं पाए जाने पर उक्त संस्थानों के संचालकों को नोटिस प्रदान कर 07 दिवस में अग्निशमन व्यवस्था कर नगर निगम से एन.ओ.सी. प्राप्त करने हेतु निर्देशित किया।

निगम के तीसरे दल ने प्रभारी सहायक फॉयर ऑफीसर साजिद खान के साथ जोन क्र. 08, 09, 13 एवं 16 के अंतर्गत स्थित सी-21 मॉल, बेस्ट प्राईज होशंगाबाद रोड, होटल आमिर ग्रीन होशंगाबाद रोड, आशिमा मॉल, डी.बी. मॉल, होटल कोटयार्ट मेरियट और जिंसी स्थित सेंटर पाईंट इत्यादि 08 व्यवसायिक संस्थानों का निरीक्षण किया और अग्निशमन व्यवस्था के पर्याप्त व्यवस्था 07 दिवस में सुनिश्चित करने तथा नगर निगम से एन.ओ.सी. प्राप्त करने हेतु नोटिस प्रदान किए गए।

शनिवार को अग्नि दुर्घटना बचाव हेतु गठित किए गए दलों ने 71 व्यवसायिक संस्थानों का निरीक्षण कर अग्नि दुर्घटनाओं से बचाव हेतु सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया तथा संबंधित सभी संस्थानों के संचालकों को 07 दिवस में अग्निशमन व्यवस्था स्थापित कर निगम के फॉयर ब्रिगेड को अवगत कराने और एन.ओ.सी. प्राप्त करने हेतु निर्देशित किया गया है।

००००००००००००

LEAVE A REPLY