विश्व पर्यटन रैकिंग में भारत तीसरे स्थान पर

0
63

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। भरपूर प्राकृतिक सुन्दरता, सांस्कृतिक विविधता और किये गये प्रयासों से आज भारत विश्व पर्यटन में चीन और अमेरिका के बाद तीसरे पायदान पर पहुँच गया है। भोपाल बहुत सुन्दर शहर है। झील की सुन्दरता को नुकसान पहुँचाये बिना इसे पर्यटन के उच्च मापदंडों के अनुसार विकसित किया जायेगा। यह बात केन्द्रीय पर्यटन मंत्री श्री अल्फांस कन्ननथानम् आज भारत भवन में संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ के साथ भोपाल लिटरेचर एण्ड क्राफ्ट फेस्टिवल का शुभारंभ करते हुए कही। तीन दिवसीय फेस्टिवल में देश-विदेश के 70 प्रतिष्ठित साहित्यकार और कलाकार भाग ले रहे हैं।

केन्द्रीय मंत्री कन्ननथानम् और डॉ. साधौ ने इस अवसर पर सुप्रतिष्ठित लेखिका नमिता गोखले को सुशीला देवी अवार्ड से सम्मानित भी किया। उन्होंने बट्टू सहगल की पुस्तक बांधवगढ़ इनहेरिटेन्स एण्ड वाईल्ड मध्यप्रदेश का विमोचन भी किया।

मंत्रीद्वय ने अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त लोक चित्रकार भज्जू श्याम की पेन्टिंगस् की प्रदर्शनी का शुभारंभ भी किया। मंत्रीद्वय ने श्याम की एक-एक पेन्टिंग को देखा और भरपूर सराहना की। संस्कृति मंत्री डॉ. साधौ ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्रीमती इंदिरा गाँधी ने भारत भवन का निर्माण भोपाल को सांस्कृतिक राजधानी बनाने के लिये करवाया था। गुजरात, पंजाब, बंगाल आदि अन्य राज्यों में एक ही संस्कृति होती है, परन्तु मध्यप्रदेश विभिन्न संस्कृतियों का गुलदस्ता है। राज्य की बुन्देलखंड, बघेलखंड, निमाड़ी, मालवी आदि संस्कृतियों का संरक्षण करते हुए विकास किया जायेगा।

संस्था के अध्यक्ष राघवचन्द्रा ने बताया कि यह आयोजन महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर किया जा रहा है। इस अवसर पर अन्तर्राष्ट्रीय कला संग्राहक जॉन बोल्स, नीति आयोग के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अमिताभ कांत रेरा अध्यक्ष ऐन्टोनी डि सा, संस्कृति सचिव रेनु तिवारी, संतोष चौबे, अभिलाष खांडेकर और देश-प्रदेश के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। संस्था की सचिव मीरा दास ने आभार प्रकट किया।

०००००

LEAVE A REPLY