रीवा में कचरे से बनेगी बिजली-राजेन्द्र शुक्ल

0
147

रीवा। (हिन्द न्यूज सर्विस)। रीवा के विकास में आज एक और उपलब्धि तब जुड़ गई जब उद्योग मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने पहडिय़ा गांव में 158.67 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले वेस्ट टू एनर्जी आधारित एकीकृत क्षेत्रीय ठोस अपशिष्ट प्रबंधन क्लस्टर का शिलान्यास किया। इस संयंत्र से रीवा में कचरे से बिजली बनने लगेगी। रीवा एक ऐसा संभाग हो जाएगा, जहां कोयला, पानी, सौर ऊर्जा एवं कचरे से बिजली उत्पादन होने लगेगा। इस संयंत्र में 340 मैट्रिक टन कचरे से प्रतिदिन 6 मेगावाट विद्युत का उत्पादन होगा। शिलान्यास समारोह में सांसद जनार्दन मिश्र, तथा महापौर ममता गुप्ता भी मौजूद थे।

राजेन्द्र शुक्ल ने इस अवसर पर कहा कि उन्होंने रीवा शहर सहित अन्य नगरीय निकायों साफ-सुथरे बनाने और कचरे का प्रबंधन सुनिश्चित करने का संकल्प लिया था। उन्होंने बताया कि इस संयंत्र में रीवा सहित संभाग के सीधी एवं सतना जिलों के 28 नगरीय निकायों का कचरा आएगा, जहां अत्याधुनिक तकनीक से बिना किसी प्रदूषण के बिजली बनाने का काम होगा।

उद्योग मंत्री ने पहडिय़ा ग्रामवासियों को आश्वस्त किया कि संयंत्र में आने वाला कचरा पूर्णत: बंद वाहनों में लाकर बंद संयंत्र में ही जलाकर बिजली पैदा की जाएगी। इससे कहीं भी किसी भी प्रकार की गंदगी अथवा प्रदूषण नहीं होगा। संयंत्र के चारों ओर हरे भरे वृक्ष लगाये जाएंगे और पार्क भी विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही पहडिय़ा गांव का भी सर्वागीण विकास किया जायेगा। संयंत्र की बाउण्ड्री के बाहर सुलभ काम्पलेक्स बनाए जाएंगे और ग्राम पहडिय़ा को सर्व-सुविधायुक्त आदर्श ग्राम के तौर पर विकसित किया जाएगा। उन्होंने पहडिय़ा स्कूल का हाईस्कूल में उन्नयन और स्वास्थ्य केन्द्र को बेहतर बनाने का आश्वासन दिया।

००००००००००

LEAVE A REPLY