रायपुर : जनदर्शन-मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने दो हजार से ज्यादा लोगों से की मुलाकात

0
153

रायपुर। (हिन्द न्यूज सर्विस)। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां अपने निवास परिसर में आयोजित जनदर्शन कार्यक्रम में आम जनता से मुलाकात कर लोगों की समस्याएं सुनी। डॉ. सिंह ने कबीरधाम जिले से आए बैगा आदिवासियों के प्रतिनिधि मंडल के ज्ञापन को तत्काल संज्ञान में लिया और वहां के कलेक्टर को मोबाइल फोन पर इन आदिवासियों की पट्टे से संबंधित समस्या का उचित निराकरण जल्द सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री नेे आज के जनदर्शन में राजधानी रायपुर सहित राज्य के विभिन्न जिलों के दो हजार से अधिक लोगों सेे मुलाकात की। इनमें से 928 लोग विभिन्न प्रतिनिधि मंडलों में शामिल थे, जबकि एक हजार 151 लोगों ने मुख्यमंत्री को अपनी-अपनी व्यक्तिगत समस्याओं के बारे में आवेदन दिए।

मुख्यमंत्री ने पंच-सरपंचों और अन्य जनप्रतिनिधियों के आग्रह पर आज के जनदर्शन में 25 आवेदनों में लगभग 97 लाख रूपए के निर्माण कार्यों की स्वीकृति तत्काल प्रदान कर दी, जिनमें सीसी रोड, सामुदायिक भवन तथा पुल-पुलियों के कार्य भी शामिल हैं। डॉ. सिंह ने 62 मरीजों को संजीवनी कोष से सहायता राशि की मंजूरी दी और 57 मरीजों को मेडिकल कॉलेज से संबद्ध अम्बेडकर अस्पताल में नि’शुल्क इलाज के लिए भिजवाया। डॉ. सिंह ने कबीरधाम जिले से आए बैगा आदिवासियों के प्रतिनिधि मंडल के ज्ञापन को तत्काल संज्ञान में लिया और वहां के कलेक्टर को मोबाइल फोन पर इन आदिवासियों की समस्याओं का उचित निराकरण जल्द सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन में बताया कि कबीरधाम जिले के पंडरिया तहसील क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम दमगढ़ में बैगा आदिवासियों के लगभग 110 परिवार विगत 80 वर्षों से निवासरत हैं और खेती भी कर रहे हैं। उन्हें वर्ष 1975 में शासन द्वारा जमीन का पट्टा दिया गया था, लेकिन वर्ष 2014 में क्षेत्र के तत्कालीन राजस्व अधिकारियों ने जांच करने के लिए उन सबके जमीन के पट्टे जमा करवा लिए और आज तक उनकों अपनी जमीनों का पट्टा वापस नहीं मिला।

मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मंडल को विश्वास दिलाया कि इस प्रकरण में बैगा आदिवासियों को न्याय दिलाया जाएगा। ग्राम पंचायत अर्जुनी, कोरगापार और देवरी (क) (विकासखंड-गुण्डरदेही) जिला बालोद के सरपंचों और अन्य प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपकर खपरी जलाशय से 10 गांवों के लिए पेयजल आपूर्ति की व्यवस्था करवाने का आग्रह किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि इस जलाशय से नल-जल योजना के लिए सर्वेक्षण पूरा हो चुका है। इसका निर्माण होने पर अर्जुनी, सकरौद, गोरकापार, खपरी, सिरसिदा, परसदा सहित दस गांवों के लोगों को पर्याप्त पानी मिल सकेगा।

मुख्यमंत्री ने उनका ज्ञापन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सचिव को आवश्यक कार्रवाई के लिए भिजवाया। ग्राम पंचायत बड़ेदेवगांव (तहसील खरसिया) जिला रायगढ़ के ग्रामीणों ने भी मुख्यमंत्री से मुलाकात की। उन्होंने डॉ. सिंह को ज्ञापन सौंपकर ग्राम बड़े देवगांव के शासकीय हाई स्कूल का उन्नयन हायर सेकेण्डरी स्कूल के रूप में करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने उनका ज्ञापन स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप को भिजवाया।

०००००००

 

 

 

LEAVE A REPLY