मुख्यमंत्री के नाम पर चंदा वसूली करने वाले आबकारी आयुक्त पर आरोप लगाने वाले ठेकेदारों को किया जा रहा प्रताडि़त

0
66

०-अवधेश पुरोहित
भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। पिछले दिनों ग्वालियर के कुछ आबकारी ठेकेदारों द्वारा लोकायुक्त में शपथ पत्र के माध्यम से की गई इस तरह की शिकायत कि आबकारी आयुक्त रजनीश श्रीवास्तव को अपर आयुक्त नेमा और उडऩदस्ता प्रभारी शैलेन्द्र सिंह द्वारा उन पर दबाव बनाकर मुख्यमंत्री के नाम की धमकी देकर यह कहा जा रहा है कि चुनाव सिर पर हैं और मुख्यमंत्री ने हमें चुनावी फंड एकत्रित करने के लिये कहा है साथ ही यह भी धमकी दी है कि यदि इस फण्ड का इंतजाम नहीं किया तो इन अधिकारियों को लूपलाइन में तो डाल ही देंगे साथ ही इनकी नौकरी पर भी खतरा मंडराने लगेगा इस तरह का शपथ पत्र देने वाले आबकारी ठेकेदार को अपर आयुक्त नेमा और शैलेन्द्र सिंह के द्वारा तरह-तरह की कार्यवाही कर प्रताडि़त किया जा रहा है ऐसा ही एक वाकया पिछले दिनों ग्वालियर में देखने को मिला जब आबकारी ठेकेदार शिवहरे चिल्ला-चिल्लाकर यह आरोप लगा रहा था कि हमने आबकारी आयुक्त से लेकर उन अधिकारियों की की है यह सभी अधिकारी यह दबाव बना रहे हैं कि हम यह शिकायत वापस लें, नहीं लेने पर प्रताडि़त करने के आरोप लगाये गये ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। सवाल यह उठता है कि आबकारी अधिकारियों की इस तरह की कार्यवाही पर न्यायालय की शरण में गये और वहां से उनके पक्ष में निर्णय आने के बाद भी उन आबकारी ठेकेदारों को अधिकारियों द्वारा परेशान किया जाने को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं। कुल मिलाकर आबकारी विभाग में आपसी रंजिश और मलाईदार पद हथियाने को लेकर जिस तरह का ताण्डव मचा हुआ है उस ताण्डव से आबकारी विभाग इन दिनों तरह-तरह की चर्चाओं के साथ सुर्खियों में है, जिसके चलते मनमाने तरीके से आबकारी ठेकेदारों को परेशानी का दौर जारी है तो वहीं उन्हें प्रताडि़त करने का भी सिलसिला जमकर चल रहा है।

०००००००००००००

LEAVE A REPLY