महावीर जयंति की पूर्व संध्या पर सरकार ने किया कड़कनाथ लांच

0
119

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। एक तरफ प्रदेश के राज्यपाल और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जैन समाज के धर्मावलम्बियों को महावीर जयंती पर शुभकामनाएं दी जा रही थीं तो वहीं दूसरी ओर शिवराज सरकार के मंत्री परिषद के सदस्य सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग द्वारा महावीर जयंती की पूर्व संध्या ऑनलाइन कड़कनाथ लांच करने की घोषणा की जा रही थी। शिवराज सरकार के राज्यमंत्री द्वारा महावीर जयंती के पूर्व इस तरह से कड़कनाथ की ऑनलाइन लांचिंग के कार्यक्रम को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं लोग जहां यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि इसी शिवराज सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में शराब को घर पहुंच सेवा का रूप प्रदान किया गया तो वहीं दूसरी ओर सरकार द्वारा प्रदेश के ग्राम पंचायतों के माध्यम से झांझ, मझीरे व हारमोनियम उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जा रही है। इन दोनों मामलों को लेकर लोग तरह-तरह की चर्चाएं करते नजर आ रहे हैं तो वहीं लोग यह कहते नजर आ रहे हैं कि लगता है सरकार अपनी असफलताओं को छुपाने के लिये लोगों को झांझ मजीरे बजाने और भवन कीर्तन में व्यस्त करने के प्रयास में लगी हुई है तो वहीं कड़कनाथ और शराब का सेवन कर जीवन का आंनद लें, इससे पूर्व धार जिले के जैन तीर्थ मोहनखेड़ी में सम्पन्न भाजपा कार्यसमिति की बैठक के समापन के दौरान अपने उद्बोधन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं को देह व्यापार से जुड़ी महिलाओं की मनोवृत्ति में परिवर्तन कर भाजपा में शामिल करने की सलाह दी गई थी। हालांकि जिन भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं को मुख्यमंत्री द्वारा इस तरह की सलाह दी गई थी उन्हीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के मंत्रीमण्डल के एक सदस्य जो अपने कारोबार को बढ़ावा देने के लिये जो प्रक्रिया कारोबारी अपनाते हैं इसके चलते इसी प्रदेश में एक समय इस प्रकार के समाचार सुर्खियों में थे कि अधिकारियों कीे अब काम के बदले पैसे नहीं बल्कि सुरा और सुन्दरी उपलब्ध कराने की मांग का दौर चला था। पता नहीं अब वह सिलसिला जारी है या नहीं यह तो जांच का विषय है लेकिन यह जरूर है राजधानी भोपाल के निवासी कोलार के चूना भट्टी स्थित शिवराज मंत्रीमण्डल के एक सदस्य के दो आवासों को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं करते नजर आते हैं तो वहीं इन आवासों में जहां एक ओर स्वयं मंत्री की प्रेमिका तो दूसरी ओर उन्हें भाजपा में लाने वाले संगठन से जुड़े नेता के लिये जो व्यवस्था कर रखी है उसको लेकर क्षेत्र में कई तरह की चर्चाएं व्याप्त हैं और जब भाजपा संगठन के वह पदाधिकारी मध्यप्रदेश में सक्रिय थे तो वहां आये दिन संगठन मंत्री की रासलीलाओं का दौर चलता था अब वह दिल्ली चले गए हैं तो इन गोपिकाओं को उनकी रासलीला के लिये दिल्ली तक पहुंचाने का काम भी बखूबी जारी है ऐसी चर्चा आम है। महावीर जयंती की पूर्व संध्या पर शिवराज मंत्रीमण्डल के सदस्य विश्वास सारंग द्वारा ऑनलाइन कड़कनाथ की सेवा उपलब्ध कराने के बाद अब यह चर्चा जोरों पर है कि इस सरकार में एक ओर जहां सुरा सुन्दरी और कड़कनाथ की व्यवस्था का दौर जारी है तो वहीं दूसरी ओर शिवराज सरकार झांझ, मझीरे और हारमोनियम ग्रामीणों को उपलब्ध कराकर भजन कीर्तन और गायन में मग्न रहने की तैयारी कर रही है। इस प्रकार की व्यवस्था शायद ही देश के किसी और भी प्रांत में होगी जिस तरह की व्यवस्था शिवराज और उनके मंत्रीमण्डल के सदस्य इस प्रदेश में लागू करने में जुटे हैं, अब इसके परिणाम क्या होंगे और शिवराज सरकार और उनके मंत्री द्वारा की गई दोनों व्यवस्थाओं में लोग किस ओर ज्यादा आकर्षित होते हैं यह तो भविष्य बताएगा कि शिवराज सरकार द्वारा उपलब्ध कराये गये झांझ, मजीरे ओर हारमोनियम को लेकर लोग भजन कीर्तन और लोक गायन में रुचि लेते हैं या आधुनिक युग में मोबाइल के द्वारा शिवराज मंत्रीमण्डल के सदस्य विश्वास सारंग द्वारा की गई कड़कनाथ की ऑनलाइन व्यवस्था की ओर या शिवराज सरकार के कार्यकाल में घर पहुंच सेवा का रूप लेने वाली शराब की ओर या फिर मंत्री द्वारा उपलब्ध कराई जा रही भाजपा नेताओं को सुन्दरी की व्यवस्था को लेकर तरह-तरह की चर्चा व्याप्त है और लोग यह कहते नजर आ रहे हैं कि राज्य में सुरा सुन्दरी और कड़कनाथ के साथ भजन, कीर्तन और लोक गायन की भी उत्तम व्यवस्था शिवराज सरकार द्वारा कराई जा रही है अब लोगों को क्या चाहिए या तो खाओ पियो मौज उड़ाओ या फिर दुनियादारी त्याग कर झांझ मजीरे बजाओ और शिव के गुण गाओ?

०००००००००००००००

LEAVE A REPLY