महर्षि विश्वमित्र ने समाज में सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का अलख जगाया-चौहान

0
153

रीवा। (हिन्द न्यूज सर्विस)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष, सांसद नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि अध्यात्म के क्षेत्र में भारत के अवदान के लिए हमारे महर्षियों के तपस्वी जीवन, संस्कारित दिनचर्या, ओजपूर्ण वाणी हमेशा ऊर्जा प्रदान करती रहेगी। उन्होंने रीवा में आयोजित महर्षि विश्वामित्र जयंती के अवसर पर कहा कि महर्षि ने गायत्री जैसे मंत्र के रूप में मानवत को जो ऊर्जा प्रदान की है उसे आज विज्ञान ने भी अपनी कसौटी पर खरा पाया है। इसमें जीवन का प्राणसत्व निहित है। विश्वामित्र जयन्ती के आयोजन के लिये आपने आयोजनकर्ताओं की सराहना की और कहा कि इसे हर वर्ष गरिमापूर्ण एंग से मनाने के लिए मिले जुले प्रयास आवश्यक है। महर्षि ने समाज को भावनात्मक एकता के सूत्र में गुंफित कर सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का अलख जगाया। आज हमें इसकी आवश्यकता है जिसे देश में एकता का भाव विस्तृत हो।

विश्वामित्र जयंती के अवसर पर प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, क्षेत्रीय सांसद जर्नादन मिश्र, विधायक शंकरलाल तिवारी, राजेन्द्र सिंह तोमर तथा अन्य वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने संबोधित किया और महर्षि को श्रद्धा सुमन अर्पित किये।

प्रदेश अध्यक्ष नदंकुमार सिंह चौहान का रीवा में व्यस्ततम दिन रहा। उन्होंने सर्वधर्म सम्मेलन और अन्य कार्यक्रमों में भाग लिया तथा कहा कि देश में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सामाजिक, आर्थिक क्रांति अवतरित हुई है। इससे दिन समृद्ध होगा और विश्व में भारत एक आर्थिक शक्ति के रूप में उभरेगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में विकास और कृषि विकास का कीर्तिमान बनाया है। राज्य सरकार किसानों के सुख-दुख में चट्टान की तरह किसानों के समर्थन में तत्पर है। मुख्यमंत्री भावान्तर भुगतान योजना किसानों के लिए आर्थिक कवच साबित होगी।

०००००००००

LEAVE A REPLY