भारतीय संस्कृति, परंपरा और मूल्यों से युवा पीढ़ी को जोडऩे की जरूरत -मुख्यमंत्री

0
51

छिंदवाड़ा। (हिन्द न्यूज सर्विस)। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि भारत की पहचान बनाने वाली संस्कृति, परंपरा और सामाजिक मूल्यों से आज की युवा पीढ़ी को जोडऩे की जरूरत है। इसके जरिये ही हम देश का निर्माण करेंगे और उसे महान बना पायेंगे। उन्होंने कहा कि विकास घोषणाओं से नहीं होने से दिखता है। नाथ आज छिंदवाड़ा में राजा भोज की आदमकद प्रतिमा का अनावरण, छिंदवाड़ा शहर के लिये नियमित जल प्रदाय योजना का लोकार्पण और निर्माणाधीन शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के निरीक्षण के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

कमल नाथ ने मुख्यमंत्री बनने के बाद अपनी पहली छिंदवाड़ा यात्रा में कहा था कि प्रदेश में अब मुख्यमंत्री द्वारा की जाने वाली घोषणाओं पर विराम लगेगा। घोषणाएँ अधिकारी करेंगे और इसे पूरी करने की जवाबदारी भी उन्हीं की होगी। श्री नाथ के इस कथन के अनुरुप आज छिंदवाड़ा में कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा ने 24 नये गाँव में 67 किलोमीटर की 38 सड़कें बनाने की घोषणा की। उन्होंने बताया की इसके लिये 50 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हो गयी हैं और अगले एक माह में सड़क निर्माण का कार्य प्रारंभ हो जायेगा।
नाथ ने कहा कि मैं विकास कार्यों की घोषणा नहीं करता। उन्होंने कहा कि जब छिंदवाड़ा में हाइवे बना मैंने घोषणा नहीं की। छिंदवाड़ा से दिल्ली ट्रेन शुरू होगी, इसकी घोषणा भी नहीं की। उन्होंने कहा कि घोषणाओं से विकास नहीं होता है। अगर विकास होगा तो जनता को दिखेगा।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने राजा भोज की आदमकद प्रतिमा की स्थापना को छिंदवाड़ा के रहवासियों के लिये महत्वपूर्ण बताते हुये कहा कि राजा भोज की भारत देश के नव-निर्माण और इसकी संस्कृति को समृद्ध बनाने की एक व्यापक सोच थी। उन्होंने अपने समय में देश की संस्कृति को एक नई दिशा दी और जन-कल्याण की दिशा में काम करते हुये मिसाल पेश की। यही कारण है कि आज हम उनकी मूर्ति की स्थापना कर स्मरण कर रहे हैं और युवा पीढ़ी को उनके व्यक्तित्व और कृतित्व से अवगत करा रहे हैं। नाथ ने कहा कि हमारे देश में हर क्षेत्र में विविधता है तो भी हम एकता के मजबूत सूत्र में बँधे हुए हैं। पूरा विश्व हमारी हर दिल को जोडऩे वाली इस संस्कृति को आश्चर्य से देखता है।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने छिंदवाड़ा शहर के लिये नियमित जल प्रदाय योजना का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि योजना निर्धारित अवधि के 20 दिन पहले ही पूरी की गई। नाथ ने कहा कि आज छिंदवाड़ा में जो भी विकास दिख रहा है उसके पीछे यहाँ के नागरिकों द्वारा मुझे दिया गया प्यार, विश्वास और ताकत है। उन्होंने कहा कि यह मेरी सबसे बढ़ी पूँजी है। इसी के बल पर हर चुनौती पर विजय पाकर हम विकास के पथ पर आगे बढ़ते जायेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि छिंदवाड़ा में निर्माणाधीन शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय में ऐसा अस्पताल बनाने का हमारा प्रयास है, जिसमें विश्व-स्तरीय चिकित्सा सुविधाएँ उपलब्ध होंगी। हमारी मंशा है कि छिंदवाड़ा सहित आसपास के लोगों को इलाज के लिये बाहर न जाना पड़े बल्कि बाहर के लोग यहाँ इलाज करवाने आएँ।

समारोह में मुख्यमंत्री कमल नाथ का राजा भोज प्रतिमा निर्माण समिति तथा अन्य सामाजिक संगठनों द्वारा अभिनंदन किया गया। मुख्यमंत्री को अभिनंदन-पत्र और स्मृति-चिन्ह भेंट किया गया।

००००००००

LEAVE A REPLY