भाजपा के आने के बाद से देश में अशांति-राहुल गांधी

0
179

जगदलपुर। (हिन्द न्यूज सर्विस)। छत्तीसगढ़ के जगदलपुर में एक सभा को संबोधित करते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी नेकांग्रेस उपाध्यक्ष ने नोटबंदी, किसानों, मजदूरों, आदिवासियों और जीएसटी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज भाजपा ने जम्मू-कश्मीर, हरियाणा, उत्तर-पूर्वी राज्यों में आग लगा दी। महिलाओं को मारा जाता है, बलात्कार होता है, पर मोदीजी एक शब्द नहीं कहते। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर बहुत अत्याचार किया गया है, अब सब एक होकर भाजपा से लड़ेंगे।

राहुल गांधी ने कहा कि कश्मीर में हिंसा होने से पाकिस्तान और चीन को फायदा हो रहा है। सबसे अहम यह है कि इससे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को भी फायदा हो रहा है। बस्तर के जगदलपुर में शनिवार को छात्र संगठन एनएसयूआई की ओर से आयोजित कार्यक्रम आमचो हक आदिवासी छात्र संवाद के दौरान राहुल ने वहां मौजूद छात्रों से पूछा कि घर में लड़ाई होती है तो फायदा किसको होता है? छात्रों ने जवाब दिया पड़ोसी को। इस पर राहुल ने कहा कि ठीक यही काम जम्मू-कश्मीर में हो रहा है। वहां आतंकवाद चरम पर है. कश्मीर हिंसा की चपेट में है।

उन्होंने कहा, जब से मोदी सरकार आई है, वहां अशांति फैली हुई है। केंद्र में भी भाजपा सरकार और कश्मीर में भी भाजपा सरकार। बावजूद इसके कश्मीर के भीतर घाटी लाल और बेहाल है। कश्मीर में सेना और कश्मीरवासियों को लड़ाकर मोदी सरकार राजनीतिक फायदा उठाने में जुटी है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, जब तक कांग्रेसनीत संप्रग सरकार थी तब तक कश्मीर में शांति थी, देश में कही भी अशांति का माहौल नहीं था। लेकिन, मोदी सरकार के आने के बाद से कश्मीर सहित असम, तमिल, केरल और कई राज्यों में अशांति फैलती जा रही है। हर कहीं माहौल उग्र और हिंसात्मक हो चला है।

उन्होंने कहा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र में किसान जल-मर रहे हैं। भाजपा और आरएसएस को इसी हिंसा से फायदा होता है। उनका काम ही है माहौल बिगाड़ते रहना।

राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार किसानों और आदिवासियों से उनका हक छीन रही हैं। आरएसएस के लोग कहते हैं आरक्षण को बंद करना है। आउटसोर्सिंग का मतलब पीछे के दरवाजे से आरक्षण बंद करना है। यहां कोई भी नई चीज होती है तो उसमें स्थानीय लोगों को काम नहीं मिलता। क्या आप काम करना नहीं जानते, बिल्कुल जानते हैं। लकिन आपसे काम करने का हक भी छीना जा रहा है। यहां लोगों से बोला गया था कि स्टील प्लांट आएगा तो लोगों को रोजगार मिलेगा। इससे खुश होकर किसानों ने अपनी जमीन दे दी, लेकिन पता चला कि कोई भी कंपनी यहां प्लांट नहीं लगा रही। इस खुलासे के बाद भी लोगों को अपनी जमीन वापस नहीं मिली।

उन्होंने कहा कि बस्तर में राज्य सरकार ने कोई सुविधाएं नहीं उपलब्ध कराई हैं। कांग्रेस की सरकार बनने पर हम सभी को बराबर का हक देंगे। बस्तर के लोग इलाज कराने दूसरे शहरों में जाते हैं, लेकिन हम यहां ऐसा अस्पताल बनाएंगे कि दूसरे शहरों के लोग यहां इलाज कराने आएंगे। छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा सरकार को समझ चुकी है। अगर बस्तर की विकसित नहीं होगा तो फिर ये पूरा प्रदेश और देश कैसे विकसित होगा।

इसके पहले राहुल गांधी ने बस्तर में मिशन 2018 को लेकर कांग्रेस को मजबूत करने के लिए अपने कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया। शनिवार सुबह वे कांग्रेस के प्रशिक्षण शिविर में पहुंचे और पीछे की लाइन में कार्यकर्ताओं के बीच जाकर बैठ गए। उन्होंने देखा कि किस तरह प्रशिक्षण दिया जा रहा है। करीब 11:30 बजे तक वे इसमें मौजूद रहे, जिसके बाद दूसरे कार्यक्रम के लिए निकल गए। कांग्रेस भवन में भी बैठक का आयोजन किया गया।

०००००००००

LEAVE A REPLY