भाजपा, आरएसएस के ऐजेंडे पर कांग्रेस

0
19

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। कांग्रेस जिनराज्यों में पिछले साल के अंत में चुनाव जीती है औरउसकी सरकार बनाई है वहां वह पिछली सरकारों के एजेंडे पर ही चल रही है। कांग्रेस के जानकार नेताओं का कहना है कि कम से कम अगले लोकसभा चुनाव तक कांग्रेस कोई एजेंडा नहीं बदलने वाली है। लोकसभा के चुनाव के बाद एकदम से एजेंडा बदला जा सकता है। तभी मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार वे वंदेमातरम् सें लेकर गौशाला तक के मामले में भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एजेंडा को आगे बढ़ाया है। सरकार बनाने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने महीने के पहले दिन सरकारी कर्मचारियों के वंदेमातरम् गाने पर रोक लगाने का ऐलान यिका पर तीन दिन बाद ही उन्होंने कहा कि सरकार इसे पहले से बड़े पैमाने पर आयोजित करेगी। सो, पहले से ज्यादा बड़े पैमाने पर इसका आयोजन होने लगा है। उसके बाद मध्यप्रदेश की सरकार ने गौशाला बनवाने में भी पिछली सरकार को पीछे छोडऩे का फैसला किया है। इसी तरह गौहत्या के मामले में राज्य सरकार ने आरेापियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून, एनएसए के तहत मुकदमा दर्ज करना शुरू किया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने इसका विरोध किया तो कांग्रेस के अधिकारिक रूप से चिदंबरम की बात को खारिज कर दिया। कांग्रेस के मीडया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कान्फ्रेंस करके कहा कि पार्टी राज्य सरकार के कामकाज में दखल नहीं देगी। माना जा रहा है कि हिंदुत्व के एजेंडे पर भाजपा को जवाब देने के लिए यह स्टेंड लिया गया है। इसी रणनीति के तहत केरल में कांग्रेस को प्रदेश कमेटी सबरीमाला पर सुप्रीम कोर्ट के फेसले का विरोध कर रहा है और दिल्ली में कांग्रेस उसका समर्थन कर रही है।
०-नया इंडिया के कालम ”राजरंग” से साभार)
०००००००००००

LEAVE A REPLY