पीआर 24&7 ने शेयर किए इमेज बिल्डिंग व नए स्टार्टअप के यूनिक आइडिया

0
65

इंदौर। (हिन्द न्यूज सर्विस)। पब्लिक रिलेशन सेक्टर में पिछले 19 वर्षों के भीतर सफलता की अनेकों मुकाम हासिल कर चुकी, देश की प्रतिष्ठित पीआर कंपनी पीआर 24&7 ने पिछले दिनों देशभर के करीब 47 लोगों, जिनमें स्टूडेंट्स भी शामिल रहे, के साथ भविष्य में खुद का स्टार्टअप शुरू करने संबंधी विभिन्न आइडिया शेयर किए। ऑनलाइन-ऑफलाइन माध्यम से चलाई जा रही इस पहल के जरिए देशभर के इच्छुक लोग जो खुद के बिजऩेस या किसी प्रोडक्ट को एक ब्रांड के रूप में तब्दील करने एवं नए बिजऩेस आइडिया को पटल पर लाने की इच्छा रखते हैं, सीधे तौर पर इस पहल का फायदा उठा सकते हैं। कंपनी देश के अनेकों छोटे-बड़े स्टार्टअप्स को उनकी ब्रांडिंग की फ्री सलाह देने में जुटी है। इसके अलावा पीआर 24&7 देश के विभिन्न पॉलिटिशियन्स को भी, उनकी इमेज बिल्डिंग की फ्री सलाह उपलब्ध करा रही है। कंपनी की यह पहल, देश में तेजी से उभर रहे स्टार्टअप कल्चर को बढ़ावा देने और उनके पोर्टफोलियो को बेहतर बनाने में उपयुक्त साबित होंगे। वहीं इसके जरिए पॉलिटिशियन्स को आगामी आम चुनावों से पहले जन-जन से जुडऩे का बेहतरीन अवसर भी मिल रहा है। कंपनी यह सेवा अगले तीन महीनों तक के लिए उपलब्ध कराई है।

पीआर 24&7 के डायरेक्टर अतुल मलिकराम ने कहा कि, “किसी प्रोडक्ट या कंपनी की इमेज बिल्डिंग के लिए पीआर (पब्लिक रिलेशन) को एक महंगा सौदा समझा जाता हैं। जबकि असल में यदि आपका पीआर डिपार्टमेंट मजबूत है तो प्रोफेशनल फ्रंट पर आपको अधिक अवसर मिलने की संभावनाएं होती हैं। पब्लिक डीलिंग का सही तरीका ही आपकी बेहतर इमेज बनाने का काम करता है और शायद हम इस काम को बहुत अच्छे से करना जानते हैं। इस चीज को ध्यान में रखते हुए हमने नए साल की शुरुआत से 31 मार्च 2019 तक देश के सभी स्टार्टअप्स और पॉलिटिशियन्स को उनकी ब्रांडिंग व इमेज बिल्डिंग की फ्री सलाह दे रहे हैं। ऐसा शायद पहली बार होगा जब किसी पब्लिक रिलेशन कंपनी ने ब्रांडिंग के लिए फ्री एडवाइस देने की घोषणा की है।”

संस्था ने अपने 19 वर्षों के संघर्ष को कामयाबी में तब्दील करते हुए देश की कुछ गिनी चुनी पीआर कंपनियों में शीर्ष पर बने रहने का गौरव हासिल किया है। साल 1999 में एक कमरे और दो लोगों के साथ शुरू हुआ पीआर 24&7 का सफर, आज देश भर के कई बड़े शहरों तक अपनी पहुंच बना चुका है। कंपनी मुंबई, बंगलुरु, चेन्नई, लखनऊ, गुवाहाटी और श्रीनगर जैसे देश कुल 81 छोटे-बड़े शहरों में अपनी सेवाएं उपलब्ध करा रही है। 1700 से अधिक अख़बारों से आने वाली हर खबर पर सीधी पकड़ रखने के साथ ही, संस्था अपने क्लाइंट्स के लिए उनके मार्केट सेगमेंट से जुडऩे व उनके संदेशों को जाहिर करने में मदद करती है। इसके लिए संस्था के पास 100 से अधिक प्रोफेशनल्स की टीम मौजूद हैं, जिनमें स्ट्रेटजी प्लानर्स, मीडिया मैनेजर्स, कॉपी राइटर्स, रिसर्चर्स और पीआर व मार्केटिंग एक्सपट्र्स शामिल हैं।

०००००००००००

LEAVE A REPLY