ऑर्डिनेंस फैक्ट्री इटारसी की महिला कर्मचारी ने ज्वाइंट जीएम पर लगाए दुष्कर्म के आरोप

0
132

भोपाल। (हिन्द न्यूज सर्विस)। ऑर्डिनेंस फैक्ट्री इटारसी की एक महिला कर्मचारी ने फैक्ट्री ज्वाइंट जीएम पर दुष्कर्म की कोशिश करने के आरोप लगाए हैं। महिला का आरोप है कि ज्वाइंट जीएम ने उसे अपने कैबिन में बुलाकर दो अन्य कर्मचारियों के साथ मिलकर बलात्कार करने की कोशिश की थी। इस घटना के बाद जब महिला ने फैक्ट्री अस्पताल पहुंचकर अपना मेडिकल करवाना चाहा, तो वरिष्ठ डॉक्टरों ने उसका मेडिकल करने से इंकार कर दिया। जब महिला को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया, तो पुलिस ने उसके बयान तो लिए, लेकिन आरोपियों के खिलाफ अभी तक रिपोर्ट दर्ज नहीं की है।

बाद में महिला ने हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की। याचिका की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट जबलपुर ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश होशंगाबाद पुलिस को दिए, लेकिन अभी तक पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज नहीं की है।

पीडि़त महिला ने आज मंगलवार को राजधानी भोपाल में आयोजित एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि वह ऑर्डिनेंस फैक्ट्री इटारसी में चपरासी के पोस्ट पर कार्यरत हैं। बीती 13 जुलाई को फैक्ट्री के ज्वाइंट जीएम वी पटनायक ने उसे अपने कैबिन में बुलाया। जब वह कैबिन में गई जो वी पटनायक, उनके पीए कृष्णकांत चौधरी और चार्जमैन रामशंकर मालवीया ने महिला कर्मचारी के साथ जबरदस्ती बलात्कार करने की कोशिश की।

पीडि़त महिला का आरोप है कि जब उसने अपने साथ हो रही ज्यादती का विरोध किया, तो तीनों ने जातिसूचक शब्दों के साथ गाली-गलौच कर महिला को जान से मारने की धमकी दी।

महिला का आरोप है कि ज्यादती के दौरान तीनों ने उसके साथ जोर-जबरदस्ती कर मारपीट भी की थी। उक्त घटना के बाद जब महिला ऑर्डिनेंस फैक्ट्री के अस्पताल ले जाया गया, तो वहां के सीएमओ ने उसका मेडिकल करने से मना कर दिया। इसके बाद महिला को बेहोशी की हालत में इटारसी स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां पुलिस ने उसका बयान लिया।

महिला का कहना है कि बीते 13 जुलाई को पुलिस द्वारा लिए गए बयान के बावजूद आज तक तीनों आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई।

पीडि़त महिला का कहना है कि पुलिस द्वारा रिपोर्ट नहीं दर्ज करने पर उसने हाईकोर्ट जबलपुर में एक याचिका दायर की। याचिका की पक्ष में हाईकोर्ट ने एसपी होशंगाबाद को तत्काल आरोपियों के खिलाफ 354, 376, 120बी, 506, 509, एससी-एसटी एक्ट के तहत आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए थे। लेकिन अभी भी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है।

महिला का कहना है कि वह न्याय की गुहार लगा रही है, लेकिन उसकी मदद कोई नहीं कर रहा। उसने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने के साथ साथ उसे नौकरी में संरक्षण प्रदान किए जाने की मांग की है।

००००००००००००

LEAVE A REPLY